हुडा जी के आवास पर संपन्न समारोह बाद दस दिनों में ही सी0 बी0 आई0 ने मारी रेड

0
146

हुडा जी के आवास पर संपन्न समारोह बाद दस दिनों में ही सी0 बी0 आई0 ने मारी रेड
( विपक्षी दलों का भाजपा पर प्रहार )
अजय कुमार पाण्डेय/ मो0 जावेद रब्बानीे
नई दिल्लीः प्रत्येक वर्ष की भांति इस बार भी नव वर्ष के उपलक्ष्य पर 15 जनवरी को भब्य तरीके से हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ’’भूपेन्द्र सिंह हुडा’’ ने दिल्ली स्थित् आवास पर पार्टी दी। इस मौके पर लगभग काॅंग्रेस के तमाम् वरीय नेताओं ने भाग लिया। पार्टी दिए जाने के संबंध में मौजूद लोगों का कहना है कि इनके द्वारा कई वर्षों से नव वर्ष के उपलक्ष्य पर लगातार आयोजन किया जाता है। कार्यक्रम में शामिल होने के लिए खुद पूर्व मुख्यमंत्री जी ही समस्त् वरीय नेताओं, पत्रकार बंधुओं को भी न्योता भेजकर आमंत्रित करते हैं। इसके अलावे कार्यक्रम में भी देखा गया कि भाग लेने पहुॅंचे प्रत्येक ब्यक्तियों से घुम – घुम कर खुद मुख्यमंत्री जी ने ही मिलकर आपस की तरह बातें करते हुए हाल – चाल जाना। दूसरी खासियत देखी गई कि प्रोग्राम में बिल्कुल शाकाहारी ब्यंजन ही सजाए गए थे। कार्यक्रम का आमंत्रण स्वीकार करते हुए दिल्ली प्रदेश काॅंग्रेस की मुख्यमंत्री रही श्रीमति शीला दीक्षीत, काॅंग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी, अंबिका सोनी, डाॅं0 गुलामनबी आजाद, अहमद् पटेल, मल्लिकाअर्जुन खड़़गे, अधिवक्ता कपील सिब्बल, दिल्ली निगम पार्षद् यासमीन किदवई, शालिनी सिंह, नलीनी सिंह, स्टील कंपनी आॅंनर नवीन जींदल के अलावे काफी संख्या में काॅंग्रेसी वरीय नेताओं ने भाग लिया। कार्यक्रम में हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री के पुत्र व रोहतक सांसद् दिपेन्द्र सिंह हुडा, पूर्व मुख्यमंत्री मीडिया सलाहकार शिव भाटिया ने भी प्रत्येक आगंतुकों से मिलकर भब्य स्वागत् किया। कार्यक्रम में भाग लेते हुए पत्रकारों ने भी नव वर्ष के उपलक्ष्य पर शुभकामना देते हुए न्यूज कवरेज की। कार्यक्रम में पहुॅंचे मल्लिका अर्जुन खड़गे ने पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवालों का जवाब देते हुए कहा कि जल्दी से मिटिंग बुलाकर 24 के बाद कभी भी 25, 26 तारीख को नया सी0बी0आई0 डाईरेक्टर जल्द बनाना चाहिए। लेकिन 25 जनवरी को इनके ही दिल्ली स्थित् आवास, रोहतक, मनाली समेत् कई ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की। आरोप है कि 2004 से 2007 के बीच गलत तरीके से किसानों की जमीन खरीदकर मुनाफा कमाया गया। हुड्डा ने अपने उपर लगे आरोपों का जवाब देते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव से पूर्व भाजपा विपक्षीयों को टारगेट कर बदनाम् करना चाह रही है। लेकिन हम लोग सच्चाई को दबने नही देंगे।
हुड्डा के आवास पर सी0बी0आई0 द्वारा मारी गई रेड मुद्वे पर काॅंग्रेस प्रवक्ता पल्लवी शर्मा से जब संवाददाता की वार्ता हुयी तो भाजपा पर पलटवार करते हुए कहा कि जो नेता बी0जे0पी0 का सम्र्थन करेगा उसे कुछ नही होने वाला है। लेकिन जो नेता विपक्ष में है उसे निशाना बना कर निष्पक्ष संस्थाओं के माध्यम से जलील किया जाता है। हाल ही में सी0बी0आई0 के दो डायरेक्टरों में विवाद् के चलते रातों – रात उनको हटाया गया। आर0बी0आई0 के गर्वनर उर्जित पटेल और उनके सहकर्मी एक के बाद एक ने इस्तिफा देकर दिया। इस षड़यंत्र के पिछे सरकार की क्या मंशा थी, जो समस्त् देशवासियों ने देखा। हर लोकतांत्रिक निष्पक्ष संस्था में बी0जे0पी0 दखल अंदाजी ही कर रही है। आज देश में जिस प्रकार से सी0बी0आई0 की साख गिरी है, यह चिंताजनक है। इस साख को अविलंब बचाने की जरूरत है।
वहीं बिहार के राजद् शासनकाल में पर्यटन् मंत्री रह चुके एवं वर्तमान पार्टी उपाध्यक्ष डाॅं0 सुरेश पासवान ने संवाद्दाता से वार्ता करते हुए कहा कि केन्द्र सरकार एवं पी0 एम0 ओ0 के ईशारे पर विपक्षीयों को टारगेट कर सनसनी फैलाने के लिए दुरूपयोग किया जा रहा है। भाजपा ने थानेदार से भी बद्तर स्थिति सी0 बी0 आई0, ई0 डी0 को बना दिया है। इससे बेहतर तो राज्यों की पुलिस अच्छा काम कर रही है। भाजपा सरकार विपक्षीयों के यहाॅं जितना छापेमारी करा ले। देश की जनता सब कुछ देख रही है। माननीय सुप्रीम कोर्ट ने भी कहा है कि सी0बी0आई0 केन्द्र सरकार का तोता है। सुप्रीम कोर्ट के ही चार न्यायाधीशों ने प्रेस काॅंफ्रेंस कर कहा कि हिन्दुस्तान का लोकतंत्र खतरे में है। प्रधानमंत्री मोदी ने आप लोग जैसे निष्पक्ष पत्रकारिता करने वाले पत्रकारों को भी हथकडी़ लगवा दिया। जंतर मंतर में संविधान के प्रतियों को जलवा दिया। देश के 33 करोड़ लोगों का विश्वास जलवा दिया। सेन्ट्रल यूनिर्वसिटी से सीट कम कर खत्म कर दिया। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा लोकसभा चुनाव से पूर्व स्वर्ण जातियों को दस प्रतिशत् आरक्षण दिए जाने के मुद्वे पर भी कहा कि सिर्फ झुनझुना थमाने का काम किया है। मोदी ने देश के अंदर दस प्रतिशत् पूॅंजिपतियों के पास ही पूॅंजी पहुॅंचाने का काम किया। भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है। सारे बैंक कंगाल हो गए। दो करोड़ लोगों को रोजगार नही दिया। देश के किसानों का त्रट्ण माफ नही किया। देशवासियों को सिर्फ बेवकुफ बनाने का काम किया है। संसद् की मर्यादा तार – तार हो गई है। कविता के माध्यम से प्रधानमंत्री मोदी पर प्रहार करते हुए कहा कि ’’रहिमन् आह् गरीब का, कभी न निष्फल जाए। अंत् में कहा कि दीपक का तेल जब कम हो जाता है तो तेल की बती तेज जलने लगती है। मोदी ने देश के अंदर सारी निष्पक्ष संस्थाओं को चैपट कर दिया। ऐसा काम तो हिटलर ने भी नही किया था। आगामी लोकसभा चुनाव में देश की जनता भाजपा को करारा जवाब देकर सता से अवश्य बाहर करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here