फ्रंटलाइन वर्करों को 15 केंद्रों पर पड़े कोरोना के टीके

0
217
Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

-टीकाकरण के दौरान कोरोना की गाइडलाइन का किया गया पालन
-टीका लेने में फ्रंटलाइन वर्कर धीरे-धीरे धीरे दिखा रहे उत्साह

भागलपुर, 11 फरवरी
जिले के 15 केंद्रों पर गुरुवार को फ्रंटलाइन वर्करों को कोरोना के टीके दिए गए. टीकाकरण के दौरान स्वास्थ्यकर्मियों ने कोरोना की गाइडलाइन का पालन किया. साथ ही लाभुकों से भी करवाया. बुधवार को पांच केंद्रों पर फ्रंटलाइन वर्करों को टीके पड़े थे, लेकिन अभियान को तेज करते हुए गुरुवार को इसकी संख्या बढ़ाकर 15 कर दी गई. जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ मनोज कुमार चौधरी ने बताया कि टीकाकरण अभियान को लगातार तेज किया जा रहा है. धीरे-धीरे टीका लेने के लिए फ्रंटलाइन वर्करों की संख्या भी बढ़ती जा रही है. नगर निगम केंद्र पर तो काफी संख्या में टीका लेने के लिए फ्रंटलाइन वर्कर आए. कोरोना का टीका लेने वालों में उत्साह बढ़ रहा है. यह बहुत ही सकारात्मक बात है. अगर लोगों ने अपना सहयोग दिया तो कोरोना की चेन जल्द टूट जाएगी.

2 केंद्रों पर स्वास्थ्यकर्मियों को भी लगे टीके:
डॉ चौधरी ने बताया कि जिले के दो केंद्रों पर स्वास्थ्यकर्मियों को भी गुरुवार को कोरोना के टीके दिए गए. कुल मिलाकर जिले में गुरुवार को 17 केंद्रों पर कोरोना का टीकाकरण अभियान चला. सभी केंद्रों पर टीका पडने के बाद लाभुकों की 30 मिनट तक निगरानी की जा रही थी. इसके बाद लाभुक को 28 दिनों के बाद दूसरा डोज लेने के लिए कहकर जाने दिया जा रहा था.

छूटे हुए स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लेने का कल अंतिम मौका:
डॉ मनोज कुमार चौधरी ने बताया कि जो स्वास्थ्यकर्मी कोरोना का टीका लेने से छूट गए हैं, उन्हें शनिवार को अंतिम मौका दिया जाएगा. शनिवार को वह अपने केंद्र पर जाकर टीका ले लें. साथ में आधार और पैन कार्ड भी जरूर ले जाएँ. जिससे कि उनका रजिस्ट्रेशन मिलाया जा सके.

28 दिनों के बाद पड़ेगा दूसरा डोज:
डॉ चौधरी ने बताया कि टीका लेने वाले स्वास्थ्यकर्मी और फ्रंटलाइन वर्कर सभी को 28 दिनों के बाद दूसरा डोज दिया जाएगा. इसके बाद उसके टीकाकरण की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी. इस दौरान लाभुकों को मास्क पहनते रहना चाहिए और सामाजिक दूरी का भी पालन करते रहना चाहिए. कोरोना पर जीत के लिए सावधानी भी उतना ही जरूरी है जितना कोरोना का टीका.

कोविड 19 के दौर में रखें इसका भी ख्याल:
• व्यक्तिगत स्वच्छता और 6 फीट की शारीरिक दूरी बनाए रखें.
• बार-बार हाथ धोने की आदत डालें.
• साबुन और पानी से हाथ धोएं या अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें.
• छींकते और खांसते समय अपनी नाक और मुंह को रूमाल या टिशू से ढकें .
• उपयोग किए गए टिशू को उपयोग के तुरंत बाद बंद डिब्बे में फेंके.
• घर से निकलते समय मास्क का इस्तेमाल जरूर करें.
• बातचीत के दौरान फ्लू जैसे लक्षण वाले व्यक्तियों से कम से कम 6 फीट की दूरी बनाए रखें.
• आंख, नाक एवं मुंह को छूने से बचें.
• मास्क को बार-बार छूने से बचें एवं मास्क को मुँह से हटाकर चेहरे के ऊपर-नीचे न करें
• किसी बाहरी व्यक्ति से मिलने या बात-चीत करने के दौरान यह जरूर सुनिश्चित करें कि दोनों मास्क पहने हों
• कहीं नयी जगह जाने पर सतहों या किसी चीज को छूने से परहेज करें
• बाहर से घर लौटने पर हाथों के साथ शरीर के खुले अंगों को साबुन एवं पानी से अच्छी तरह साफ करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here