बांका के अस्पतालों में सफल रहा कोरोना टीकाकरण का ड्राई रन

0
278
Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सदर अस्पताल, कटोरिया रेफरल अस्पताल और डॉक्टर अजय कुमार के निजी क्लीनिक में किया गया ड्राई रन

तीनों अस्पतालों में 25- 25 स्वास्थ्यकर्मियों को टीका देने का किया गया पूर्वाभ्यास

बांका, 8 जनवरी

बांका के तीन अस्पतालों में शुक्रवार को कोरोना टीकाकरण को लेकर किया गया ड्राई रन सफल रहा।. तीनों ही अस्पतालों में 25- 25 स्वास्थ्यकर्मियों का टीका देने का पूर्वाभ्यास किया गया।. सदर अस्पताल में डीएम सुहर्ष भगत और सिविल सर्जन डॉक्टर सुधीर कुमार महतो भी मौजूद रहे। मालूम हो कि बांका में टीकाकरण के पूर्वाभ्यास को लेकर सदर अस्पताल, कटोरिया रेफरल अस्पताल और डॉ अजय कुमार के निजी क्लीनिक का चयन किया गया था।

सदर अस्पताल में टीकाकरण के बाद सिविल सर्जन डॉक्टर सुधीर कुमार महतो ने बताया कि जिले में ड्राई रन काफी सफल रहा। तीनों ही जगहों पर स्वास्थ्यकर्मियों को टीका देने के पूर्वाभ्यास में कोई कमी नहीं दिखी। हमलोगों ने इसे लेकर पहले से तैयारी कर रखी थी। अब हमलोग टीका आने का इंतजार कर रहे हैं। बांका में तैयारी पूरी है। टीका आ जाने के बाद उसे देने का काम शुरू कर दिया जाएगा।

एएनएम, आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को लगे टीके:
जिनलोगों को डमी टीका लगाया गया, उनमें से सब की सब एएनएम, आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी शामिल थे। सभी का नाम पहले से वेब पोर्टल पर दर्ज था। सभी लोग पूर्व निर्धारित समय 11 बजे से पहले केंद्र पर पहुंच चुके थे। दोपहर एक बजे तक सभी लोगों को डमी टीका पड़ गया।

कटोरिया रेफरल अस्पताल में शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुआ टीकाकरण: सदर अस्पताल के अलावा कटोरिया रेफरल अस्पताल और डॉ अजय कुमार के निजी क्लीनिक में भी शांतिपूर्ण तरीके से डमी टीकाकरण का सफल आयोजन किया गया। कटोरिया रेफरल अस्पताल के प्रभारी डॉ विनोद कुमार ने बताया कि हमलोगों ने पहले से तैयारी कर रखी थी। सुबह केंद्र पर जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉक्टर योगेंद्र मंडल भी पहुंचे। उनकी निगरानी में टीकाकरण शांतिपूर्ण तरीके से चला।

कुछ ऐसे हुई टीकाकरण की प्रक्रिया:
कोरोना का डमी टीका लगवाने वाले स्वास्थ्यकर्मी अपने-अपने टीकाकरण केंद्र पर पहुंचे। कतार में लगते ही वहां पर तैनात सिपाही ने उन्हें सैनिटाइज किया। इसके बाद एक पर्ची दी गई। पर्ची लेकर स्वास्थ्यकर्मी वेटिंग हॉल में जाकर बैठ गए। नंबर आते ही वह दूसरे टीकाकरण कक्ष में चले गए। जहां टीका लगने के साथ ही स्वास्थ्यकर्मी को मिली पर्ची पर टीका लगने का समय एएनएम ने दर्ज किया। इसके बाद वह व्यक्ति सीधे तीसरे कक्ष यानी कन्वेंशन रूम जाकर आराम करने लगे। आधा घंटा बीतने के बाद स्वास्थ्यकर्मी पर्ची के साथ बाहर निकले। वहां पर मौजूद सिपाही ने पर्ची के ऊपर समय लिखा। इसके बाद टीकाकरण की प्रक्रिया पूरी हो गई।

कोविड 19 के दौर में रखें इसका भी ख्याल:
• व्यक्तिगत स्वच्छता और 6 फीट की शारीरिक दूरी बनाए रखें.
• बार-बार हाथ धोने की आदत डालें.
• साबुन और पानी से हाथ धोएं या अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें.
• छींकते और खांसते समय अपनी नाक और मुंह को रूमाल या टिशू से ढके.
• उपयोग किए गए टिशू को उपयोग के तुरंत बाद बंद डिब्बे में फेंके.
• घर से निकलते समय मास्क का इस्तेमाल जरूर करें.
• बातचीत के दौरान फ्लू जैसे लक्षण वाले व्यक्तियों से कम से कम 6 फीट की दूरी बनाए रखें.
• आंख, नाक एवं मुंह को छूने से बचें.
• मास्क को बार-बार छूने से बचें एवं मास्क को मुँह से हटाकर चेहरे के ऊपर-नीचे न करें
• किसी बाहरी व्यक्ति से मिलने या बात-चीत करने के दौरान यह जरूर सुनिश्चित करें कि दोनों मास्क पहने हों
• कहीं नयी जगह जाने पर सतहों या किसी चीज को छूने से परहेज करें
• बाहर से घर लौटने पर हाथों के साथ शरीर के खुले अंगों को साबुन एवं पानी से अच्छी तरह साफ करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here