जिले में परिवार नियोजन योजना को सफल बनाने के लिए 14 से 31 जनवरी तक चलाया जाएगा मिशन परिवार विकास अभियान

0
210
Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

– अभियान को ले राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने पत्र जारी कर सभी जिलों को दिया निर्देश 

– अभियान को सफल बनाने के लिए सिविल सर्जन कि अध्यक्षता में आयोजित की गई कार्यशाला 

बेगूसराय-

 राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार द्वारा राज्य के सभी जिलों के सिविल सर्जन को परिवार नियोजन योजना के तहत जिले  में पूरे जनवरी महीने तक मिशन परिवार विकास अभियान चलाने का निर्देश दिया है। राज्य स्वास्थ्य समिति द्वारा जारी किए गए इसी निर्देश के आलोक में गुरुवार को सिविल सर्जन डॉ. कृष्णनंदन वर्मा की अध्यक्षता में एक कार्यशाला आयोजित की गई। 

कार्यक्रम कि अध्यक्षता करते हुए जिले के सिविल सर्जन डॉ. कृष्णनंदन वर्मा ने बताया कि भारत सरकार के महत्वपूर्ण कार्यक्रम परिवार नियोजन योजना के अंतर्गत जिले के नवदम्पतियों सहित अन्य लोगों को परिवार नियोजन के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से जनवरी के महीने में 14 से 31 जनवरी तक मिशन परिवार विकास अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के सफल संचालन को ले राज्य स्वास्थ्य समिति द्वारा जारी किए गए पत्र के माध्यम से एक विस्तृत कार्यक्रम तय की गई है। इस कार्यक्रम के अनुसार जनवरी के पहले और दूसरे सप्ताह में जागरुकता अभियान चलाने, सीएनएन फार्म भरने के साथ हीं जागरुकता रथ निकालना है। इसके साथ ही तीसरे सप्ताह में नवदम्पति संपर्क पखवारा मनाने और चौथे सप्ताह में परिवार नियोजन सेवा सप्ताह मनाने का कार्यक्रम तय किया गया है। 

अभियान को सफल बनाने को ले किया गया कार्यशाला का आयोजन : 

सिविल सर्जन ने बताया कि मिशन परिवार विकास अभियान को सफल बनाने के लिए गुरुवार को एक कार्यशाला आयोजित की गई जिसमें जिला मुख्यालय में कार्यरत स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी, जिले के सभी अनुमंडल, रेफरल अस्पताल के प्रभारी और हॉस्पिटल मैनेजर के साथ हीं जिले भर के सभी पीएचसी के मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी, हॉस्पिटल मैनेजर, ब्लॉक कम्यूनिटी मोबेलाइजर सहित कई अधिकारियों ने हिस्सा लिया। 

कार्यशाला में इन बिंदुओं पर हुई चर्चा : 
उन्होंने बताया कि कार्यशाला में जिले के सभी प्रखण्डों में आशा कार्यकर्ता द्वारा परिवार नियोजन के लिए इक्छुक लाभार्थी की सूची तैयार करने के साथ ही प्रखण्ड स्तरीय कार्यशाला आयोजित करने, आरोग्य दिवस पर सास- बहू- बेटी कार्यक्रम आयोजित करने के साथ हीं प्रखण्ड स्तर पर परिवार नियोजन कि सेवा प्रदान करने के साथ हीं परिवार नियोजन के साधन महिला बंध्याकरण, पुरुष नसबंदी का ऑपरेशन करवाने के साथ ही महिलाओं को कॉपर टी लगवाने के साथ ही अंतरा, छाया, माला एन, और कंडोम का इस्तेमाल करने के लिए जागरूक करने से सम्बंधित चर्चा की गई। 

कार्यशाला में यह चर्चा की गई कि विभिन्न देशों के अध्ययन में यह पाया गया है कि परिवार नियोजन न सिर्फ आर्थिक एवं सामाजिक खुशहाली के लिए आवश्यक है बल्कि देश में मातृ एवं शिशु मृत्यु दर को कम करने के लिए भी यह आवश्यक है। 

– कार्यशाला में भारत सरकार के द्वारा हाल हीं में जारी किए गए नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे 5 2019 – 20 के अनुसार एनएफ एचएस 4 2015- 16 के आंकड़ों के अनुसार बेगूसराय जिले में परिवार नियोजन के सभी सूचकांक में काफी प्रगति दर्ज करने की चर्चा की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here