इलाज में गुणवत्ता सुधार के लिए डॉक्टर और नर्सो की दी जा रही ऑनलाइन ट्रेनिंग

0
296
Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

– कॉन्टीन्यूस क़्वालिटी इम्प्रूवमेंट प्रोग्राम के तहत ट्रेनिंग
– आई.एच.आई., केयर इंडिया और स्टेट हेल्थ सोसाइटी बिहार के संयुक्त प्रयास से आयोजन
– राज्य के सभी 38 जिला मुख्यालय के सदर अस्पताल में डॉक्टर और नर्सो को दी जा रही है ट्रेनिंग
मुंगेर, 01 दिसंबर। अनवरत गुणवत्ता सुधार (कॉन्टीन्यूस क्वालिटी इम्प्रूवमेंट) कार्यक्रम के तहत संस्थागत प्रसव के दौरान मातृ मृत्यु दर और नवजात मृत्यु दर को कम करने के लिए सदर अस्पताल मुंगेर में डॉक्टर और नर्सो को ऑनलाइन ट्रेनिंग दी जा रही है। अस्पताल के प्रसूति वार्ड के सभागार में केयर इंडिया मुंगेर के सहयोग से यह ट्रेनिंग दी जा रही है। मालूम हो कि कॉन्टीन्यूस क्वालिटी इम्प्रूवमेंट प्रोग्राम(सीक्यूआई) फेज 3 के तहत नवंबर से मार्च महीने तक राज्य के सभी जिला मुख्यालय स्थित सदर अस्पताल में तैनात डॉक्टर और नर्सो को ऑनलाइन ट्रेनिंग दी जानी है। पिछले वर्ष से हीं प्रसूति एवं नवजात शिशुओं की स्वास्थ्य सेवाओं में गुणवत्तापूर्ण सुधार को लेकर लगातार कार्य किए जा रहे हैं। इसके तहत राज्य के सभी जिला मुख्यालय स्थित सदर अस्पताल में एक कमेटी बनाई गई है।

प्रत्येक शुक्रवार को सदर अस्पताल के उपाधीक्षक एवं अस्पताल प्रबंधक को ऑनलाइन लीडरशिप डेवलपमेंट ट्रेनिंग-
केयर इंडिया के मुंगेर स्थित डिस्ट्रिक्ट रिसोर्स यूनिट इंचार्ज डीटीएल मुंगेर के डॉ. अजय आर्य ने बताया कि कॉन्टीन्यूस क्वालिटी इम्प्रूवमेंट ( सी.क्यू. आई. ) प्रोग्राम के तहत डॉक्टर और नर्सो के लिए ऑनलाइन ट्रेनिग का आयोजन इंस्टिट्यूट ऑफ हेल्थ केयर ऑफ इंडिया, केयर इंडिया और स्टेट हेल्थ सोसाइटी ऑफ बिहार के संयुक्त प्रयास से किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रत्येक शुक्रवार को राज्य के सभी 38 जिलों के सदर अस्पताल में कार्यरत उपाधीक्षक एवं अस्पताल प्रबंधक को ऑनलाइन लीडरशिप डेवलपमेंट ट्रेनिंग दी जाती है।
प्रत्येक मंगलवार को मेडिकल ऑफिसर और लेबर रूम इंचार्ज को ट्रेनिंग दी जाती-
वहीं प्रत्येक मंगलवार को मेडिकल ऑफिसर और लेबर रूम इंचार्ज को गुणवत्ता सुधर (क्वालिटी इम्प्रूवमेंट) के लिए क्षमतावर्धन (केपेसिटी बिल्डिंग) ट्रेनिंग दी जाती है। बताया कि डॉक्टर और नर्सो को मैटरनल और नवजात (न्यू बोर्न बेबी) के स्वास्थ्य में अनवरत सुधार (कॉन्टीन्यूस इम्प्रूवमेंट) के लिए राष्ट्रीय व अन्तरराष्ट्रीय स्तर के ट्रेनर लगातार ऑनलाइन ट्रेनिंग दे रहे हैं। ट्रेनिंग के बाद जिला सदर अस्पतालों में एक कमेटी बनाकर गुणवत्तापूर्ण सेवाएं दी जा रही हैं ।

मंगलवार को सदर अस्पताल स्थित प्रसूति वार्ड के सभागार में डॉक्टरों एवं नर्सो को मैटरनल और न्यू बोर्न बेबी को क्वालिटी हेल्थ सर्विस देने के लिए इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ केयर इम्प्रूवमेंट के डॉ. पैट्रिक और पूनम गुप्ता ने ऑनलाइन ट्रेनिंग दी। ऑनलाइन ट्रेनिग लेने वालों में सदर अस्पताल लेबर रूम की इंचार्ज सिस्टर नीतू कुमारी एवं सिस्टर मधु कुमारी शामिल थीं । उन्होंने बताया कि ऑनलाइन ट्रेनिग से बहुत कुछ सीखने को मिल रहा है। इसके बाद संस्थागत प्रसव के दौरान प्रसूति एवं नवजात शिशुओं की देखभाल में काफी सहूलियत मिलेगी। मौके पर डीटीएल केयर डॉ. अजय आर्य एवं केयर इंडिया के सदर ब्लॉक मैनेजर संजीव कुमार मौजूद थे।
कोरोना काल में इन उचित व्यवहारों का करें पालन,-
– एल्कोहल आधारित सैनिटाइजर का प्रयोग करें।
– सार्वजनिक जगहों पर हमेशा फेस कवर या मास्क पहनें।
– अपने हाथ को साबुन व पानी से लगातार धोएं।
– आंख, नाक और मुंह को छूने से बचें।
– छींकते या खांसते वक्त मुंह को रूमाल से ढकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here