कोविड-19 को मात दे चुके लोगों को भी सतर्क और सावधान रहना जरूरी

0
138
Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  • बीमारी को मिली मात, कोविड-19 को नहीं, इसलिए जारी रखें ऐहतियात
  • सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का करें खुद भी पालन और दूसरों को भी करें जागरूक

लखीसराय, 26 नवंबर, 2020
सर्दी का आगमन होते ही मौसम में भी काफी तेजी से बदलाव हो रहा है। जिसके कारण लोग ठंडजनित बीमारी से पीड़ित भी होने लगे हैं। ऐसे में स्वास्थ्य के प्रति किसी प्रकार की लापरवाही ठीक नहीं है। बदलते मौसम और कोविड-19 के दूसरे दौर में आमलोगों के साथ-साथ कोविड-19 को मात देकर स्वस्थ हो चुके लोगों को सतर्क और सावधान रहने की जरूरत है, क्योंकि, आप बीमारी को मात दिए हैं ना कि कोविड-19 के दौर को। जिसके कारण लापरवाही बरतने पर आप पुनः संक्रमित हो सकते हैं। इसलिए, बचाव के लिए आवश्यक ऐहतियात जारी रखें।

कोविड-19 संक्रमण से दोबारा संक्रमित होने पर बढ़ेगी परेशानी :-
जिला सिविल सर्जन पदाधिकारी डॉ आत्मानंद राय ने बताया कि लगातार बदल रहें मौसम में जहाँ सर्दी-खाँसी, जुकाम समेत अन्य ठंडजनित बीमारी आम हो गई है। वहीं, कोविड-19 का दुसरा दौर भी शुरू हो चुका है। ऐसे जो लोग पूर्व में भी कोविड-19 को मात देने में सफल हो चुके हैं। उनलोगों को भी विशेष सतर्क और सावधान रहने की जरूरत है। क्योंकि, थोड़ी सी लापरवाही से पुनः संक्रमित हो सकते हैं और दोबारा संक्रमित होने पर पूर्व के सापेक्ष ज्यादा परेशानी होगी।

रोग-प्रतिरोधक क्षमता बनाएँ मजबूत :-
कोविड-19 से बचाव के लिए रोग-प्रतिरोध क्षमता मजबूत बनाने की जरूरत है। इसके लिए आप पर्याप्त समय सोएं, शरीर को आराम दें और खाने-पीने के प्रति सतर्क रहें। मौसमी फल, दूध और हरी सब्जी का सेवन करें। साथ ही पानी को उबालकर और गुनगुना पानी पीने की कोशिश करें।

नियमित रूप से करे व्यायाम :-
रोग-प्रतिरोधक क्षमता मजबूत बनाने के लिए व्यायाम भी काफी कारगर साबित होता है। इसलिए, नियमित रूप से व्यायाम करें। सुबह में खुली हवा के साथ टहलें। इससे रोग-प्रतिरोधक क्षमता काफी मजबूत होगा।

साफ-सफाई का रखें विशेष ख्याल :-
कोविड-19 से बचाव के लिए साफ-सफाई भी बेहद जरूरी है। क्योंकि, साफ-सफाई हमें ना सिर्फ कोविड-19 से बचाव के लिए जरूरी है। बल्कि, इससे हम कई तरह के संक्रमित बीमारियाँ से दूर रहते हैं। इसलिए, साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखें। शौचालय समेत घर के अन्य परिसर की नियमित रूप सफाई करें।

  • कोरोना से ठीक हो चुके मरीज एंटीबॉडी टेस्ट कराएं :-
    अगर आप नियमित तौर पर रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने पर ध्यान दे रहे हैं तो ठीक है, नहीं तो आपको नियमित अंतराल पर अपनी एंटीबॉडी टेस्ट करा लेनी चाहिए। इससे आपको पता चल जाएगा कि आपका शरीर कोविड-19 से लड़ने में कितना सक्षम है। जिस तरह की रिपोर्ट आती है उसके हिसाब से आप सावधानी बरतना शुरू कर दें। कोविड-19 से ठीक होने के बाद कुछ दिनों तक एंटीबॉडी रहती है। इसके बाद कमजोर पड़ने लगती है। इसलिए, नियमित तौर पर एंटीबॉडी टेस्ट करा लें, जबतक वैक्सीन नहीं आ जाती है।
  • इन मानकों का रखें ख्याल, कोविड-19 संक्रमण से रहें दूर :-
  • नियमित रूप से मास्क और सैनिटाइजर का उपयोग करें।
  • भीड़-भाड़ वाले जगहों से परहेज करें।
  • साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखें।
  • शारीरिक दूरी का पालन का ख्याल रखें।
  • बार-बार साबुन या अन्य अल्कोहाल युक्त पदार्थों से हाथ धोने की आदत डालें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here