युक्ति योजना कार्यक्रम से सुरक्षित गर्भपात को मिलेगा बल, मातृ-मृत्यु दर में आएगी कमी

    0
    593
    Share
    •  
    •  
    •  
    •  
    •  
    •  
    •  
    • गर्भपात की समस्या से बचाव को महिलाओं को किया जाएगा जागरूक
    • स्वास्थ्य कर्मियों को दिया जाएगा ऑनलाइन प्रशिक्षण
    • मातृ – स्वास्थ्य के राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी ने पत्र जारी कर दिए निर्देश

    लखीसराय, 07 नवंबर।
    सरकार एवं राज्य स्वास्थ्य समिति मातृ- मृत्यु दर पर रोकथाम के लिए पूरी तरह सजग और कटिबद्ध है। इसको लेकर तमाम कार्यक्रम किये जा रहे हैं। इसी कड़ी में युक्ति योजना कार्यक्रम के तहत सुरक्षित गर्भपात को बढ़ावा देने एवं मातृ-मृत्यु दर में कमी लाने की योजना है। इसको लेकर स्वास्थ्य कर्मियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस सम्बन्ध में मातृ स्वास्थ्य की राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ सरिता कुमारी ने पत्र जारी कर जिला सिविल सर्जन पदाधिकारी को दिशा –निर्देश दिए हैं । इस पत्र में इस कार्यक्रम को लेकर आयोजित होने वाले एक दिवसीय प्रशिक्षण में संबंधित कर्मियों की उपस्थिति सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया है।

    • सभी कर्मी प्रशिक्षण में होंगे शामिल, हर हाल में सफल होगा प्रशिक्षण
      जिला सिविल सर्जन डॉ आत्मानंद राय ने बताया कि जिले के सभी संबंधित कर्मियों को प्रशिक्षण में शामिल होने का निर्देश दिया गया है । उनके अनुसार प्रशिक्षण के सफल संचालन को आवश्यक पहल की जा रही है। हर हाल में प्रशिक्षण सफल होगा।
    • जूम एप्लीकेशन के माध्यम से दिया जाएगा प्रशिक्षण :-
      यह प्रशिक्षण जूम एप्लीकेशन के माध्यम से 11 नवंबर को जिले के सभी संबंधित स्वास्थ्य कर्मियों एवं पदाधिकारियों को दिया जाएगा। जिसमें सुरक्षित गर्भपात को लेकर विस्तारपूर्वक जानकारी दी जाएगी। प्रशिक्षण की सफलता को लेकर जिला स्तर पर आवश्यक पहल शुरू कर दी गई है।
    • सुरक्षित गर्भपात को मिलेगा बढ़ावा और असुरक्षित गर्भपात की समस्या होगी दूर :-
      राज्य सरकार की ओर से सुरक्षित गर्भपात को बढ़ावा देने एवं असुरक्षित गर्भपात की समस्या को दूर करने के लिए युक्ति योजना कार्यक्रम की शुरुआत की गयी है। ताकि महिलाओं को गर्भपात के दौरान किसी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़े। इस योजना के तहत सभी स्वास्थ्य संस्थानों में नि:शुल्क सुरक्षित गर्भपात की व्यवस्था उपलब्ध कराई गयी है ।
    • मातृ-मृत्यु दर में आएगी कमी, सुरक्षित प्रसव को मिलेगा बल
      इस योजना के तहत न सिर्फ सुरक्षित गर्भपात कराई जाएगी बल्कि मातृ-मृत्यु दर में भी कमी आएगी। जिससे सुरक्षित प्रसव को बढ़ावा मिलेगा और गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को अनावश्यक परेशानियों से नहीं जूझना पड़ेगा।
    • इन मानकों का रखें ख्याल, कोविड-19 संक्रमण से रहें दूर :-
    • मास्क का नियमित और अनिवार्य रूप से उपयोग करें।
    • घर से बाहर निकलने पर सैनिटाइजर पास में रखें।
    • भीड़-भाड़ वाले जगहों से परहेज करें।
    • ऑख, नाक, कान को अनावश्यक छूने से परहेज करें।
    • बाहर में लोगों से बातचीत के दौरान आवश्यक दूरी का ख्याल रखें।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here