कोरोना का संक्रमण नहीं हो, बच्चों को ड्रॉप पिलाते वक्त रखा जा रहा है इसका ख्याल

0
524
Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

जिले के 3.83 लाख बच्चों को पिलाया जाएगा पोलियो का ड्रॉप

5 साल तक के बच्चों को पिलाया जा रहा है पोलियो ड्रॉप

बांका, 12 अक्टूबर

जिले भर में 5 साल तक के बच्चों को पोलियो का ड्रॉप पिलाया जा रहा है. रविवार से शुरू हुआ यह अभियान गुरुवार तक चलेगा. इस दौरान 3.83 लाख बच्चों को ड्रॉप पिलाया जाएगा. आशा कार्यकर्ता, एएनएम और आंगनबाड़ी सेविकाओं घर-घर जाकर बच्चों को पल्स पोलियो का ड्रॉप पिला रही हैं. जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. योगेंद्र प्रसाद मंडल ने बताया कि जिले भर में 5 साल तक के बच्चों को पोलियो की दवा दी जा रही है. 11 अक्टूबर को शुरू हुआ यह अभियान 15 अक्टूबर तक चलेगा. अभियान के दौरान स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना की गाइडलाइन का पालन करने और करवाने का निर्देश दिया गया है.
डॉ. मंडल ने बताया इस बार बच्चों को पोलियो ड्रॉप पिलाते वक्त विशेष सावधानी बरती जा रही है. कोरोना संक्रमण को लेकर जो गाइडलाइन जारी की गई है, उसका पालन किया जा रहा है. बच्चों में कोरोना का संक्रमण नहीं हो, इसे लेकर विशेष सतर्कता बरती जा रही है. एक माइक्रो प्लान के तहत पल्स पोलियो अभियान चलाया जा रहा है.

आशा कार्यकर्ता, एएनएम और आंगनबाड़ी सेविका जा रही घर-घर: जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने बताया कि आशा कार्यकर्ता, एएनएम और आंगनबाड़ी सेविका घर-घर जाकर बच्चों को पोलियो का ड्रॉप पिला रही हैं. इस दौरान सभी स्वास्थ्यकर्मी मास्क और ग्लव्स पहनकर जा रही हैं. इसे लेकर इन लोगों को तैयारी के दौरान प्रशिक्षण दिया गया है. किस तरह से बच्चों को पोलियो की खुराक पिलानी है, यह भी बताया गया है.

दूर से ही बच्चों को पिलाया जा रहा है पोलियो का ड्रॉप: डॉ. मंडल ने बताया कि कोरोना को लेकर इस बार सावधानी बरती जा रही है. आशा हो या एएनएम या फिर आंगनबाड़ी सेविका- सहायिका कोई भी बच्चों को छू नहीं रही हैं. दूर से ही बच्चों को ड्रॉप पिला रही हैं. पोलियो ड्रॉप पिलाते वक्त बच्चे मां की गोद में ही रहते हैं. अगर बच्चा बड़ा है और 5 साल का है तो उसे भी दूर से पोलियो का ड्रॉप पिलाया जा रहा है.

सार्वजनिक जगहों पर भी दवा पिलाने की व्यवस्था: डॉक्टर योगेंद्र प्रसाद मंडल ने बताया कि अभियान के दौरान एक भी बच्चा छूट ना जाए, इसे लेकर सार्वजनिक जगहों पर भी पोलियो की दवा पिलाने की व्यवस्था की गई है. रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड समेत शहर के मुख्य चौक चौराहों और प्रखंडों के मुख्य केंद्र पर भी शिविर लगाकर बच्चों को पोलियो का ड्रॉप पिलाया जा रहा है. इसे लेकर अलग से एक टीम का गठन किया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here