बाजार और दुकान में हम रहेंगे सतर्क तो समाज रहेगा सुरक्षित

0
685
Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

– शारीरिक दूरी, मास्क और सैनिटाइजर को बनाए जीवन का अहम हिस्सा
– बाजार, दुकान में न करें हड़बड़ी में खरीदारी, अपनी बारी का करें इंतजार
– जरूरत को देखते हुए मिली है छूट, संक्रमण खत्म नहीं हुआ है यह समझें
– आम लोगों की सतर्कता और जागरूकता से ही समाज रहेगा संक्रमण से मुक्त

मुंगेर, 03 सितम्बर।

हवेली-खड़गपुर से मुंगेर व्यापार के सिलसिले में आने वाले व्यवसायी पंकज कुमार सिंह की दिनचर्या इन दिनों बदली हुई है। वह बताते हैं कि वह आयुष भारत के प्रोडक्ट के लिए कार्य करते हैं। कार्य के लिए यात्रा करना तो जरूरी है, लेकिन इस दौरान सुरक्षा और सतर्कता बरतना भी बेहद आवश्यक है। घर से बाहर जब वह निकलते हैं तो इस बात का सबसे ज्यादा ख्याल रखते हैं कि इस दौरान लोगों से प्रर्याप्त शारीरिक दूरी रखें। वह हर वक्त अपने साथ सैनिटाइजर रखते हैं। स्वयं तो हाथ साफ रखते ही हैं, मिलने वाले लोगों से भी इसके बारे में पूछते हैं और सैनिटाइजर ऑफर करते हैं। साथ ही लोगों से स्वच्छता और उनके द्वारा अपनाए जाने वाले सुरक्षा और सतर्कता के उपायों के बारे में भी पूछते हैं। इससे न केवल उनके आसपास के लोग जागरूक रहते हैं, बल्कि एक माहौल भी बनता है जो संक्रमण के खतरे से उनको और समाज को दूर रखता है। साथ ही वह बताते हैं कि इस वक्त बाजार खासकर दुकानों में भीड़ बढ़ने लगी है, इससे बचना होगा। दुकानदारों को अब ज्यादा सजगता बरतने की जरूरत है। लोग हड़बड़ी और जल्द खरीदारी करने में सुरक्षा के नियमों को ताक पर रख दे रहे हैं, उन्हें समझाना होगा। यह काम वही कर सकते हैं, दूसरा कोई नहीं।

समाज के हरेक वर्ग और व्यक्ति की सजगता जरूरी:
वहीं मुंगेर के युवा व्यवसायी प्रशांत कुमार मिश्रा कहते हैं कि लोगों की सुरक्षा उनके स्वयं के हाथों में है। बाजार और दुकान रोजमर्रा के कामों के लिए आना आवश्यक है। अब अनलॉक के दौरान यहां लोगों की संख्या भी पहले की तरह सामान्य होने लगी है। व्यापार ने गति पकड़ी है। हालांकि संक्रमण खत्म नहीं हुआ है, इसलिए दुकानों में जहां सैनिटाइजर रखना आवश्यक है, वहीं मास्क पहनना और शारीरिक दूरी बरतना दुकानदार और ग्राहक दोनों के लिए जरूरी है। इसमें अनदेखी से दोनों के साथ उनका परिवार और समाज प्रभावित हो सकता है। हालांकि पहले की तुलना में आज लोग सतर्कता बरत रहे हैं, लेकिन कुछ जगहों पर ऐसा नहीं है। सबको समझना होगा की समाज के हरेक वर्ग और व्यक्ति की सजगता से ही संक्रमण पर रोक लगाना संभव हो पाएगा।

बाजार और दुकान में इसलिए जरूरी है सतर्कता:
कोविड 19 का प्रभाव अभी कम नहीं हुआ है। रोजाना कई नए मामले निकल कर आ रहे हैं। वहीं अभी बारिश का भी मौसम है, इसमें अक्सर साफ-सफाई बनाए रखना एक चुनौती होता है। इधर, लोग घर से मास्क पहन कर तो निकलते हैं, लेकिन बात करने या बाजार, दुकान आदि में सामान लेने के दौरान उसे नाक और मुंह से निचे कर लेते हैं। ऐसे में अपनी पूर्ण सुरक्षा के लिए शारीरिक दूरी और सतर्कता सबसे कड़ा कदम साबित हो सकता है।

प्रशासन कर रही है जागरूक, आप भी दें सहयोग:
लोग घर से बाहर शारीरिक दूरी और सुरक्षा के नियमों का पालन करें इसके लिए स्थानीय प्रशासन बड़े स्तर पर जागरूकता को लेकर कवायद कर रही है। सभी प्रतिष्ठानों में सैनिटाइजर की व्यवस्था हो, दुकानदार मास्क लगाएं और ग्राहकों से उचित दूरी रखें, इसका महत्व उन्हें बताया जा रहा है। वहीं बाजार, दुकान और सड़कों पर लोगों और वाहनों की भीड़ न लगे इसपर निगरानी रखी जा रही है। हालांकि यह सिर्फ प्रशासन का काम नहीं है, इसमें समुदाय और आम नागरिकों का सहयोग मिलना बेहद जरूरी है। सबको ध्यान में रखना होगा कि बचाव और सुरक्षा के उपाय तबतक कारगर नहीं हैं जबतक सबका सहयोग सरकार को नहीं मिलता। इसलिए संक्रमण को हराने के लिए सबको साथ आना होगा।

बिहार नागरिक सुरक्षा महानिदेशालय द्वारा बाजार जाने के लिए प्रसारित नियम:
– बाजार जाने के पहले अपने नाक-मुंह को अच्छी तरह मास्क या कपड़े से ढकें।
– बाहर निकलने के लिए अलग चप्पल का इस्तेमाल करें।
– सामान लाने के लिए थैला साथ रखें।
– 70 प्रतिशत अल्कोहल वाला छोटा सैनिटाइजर साथ ले लें और इसका बाहरी चीजों को छूने पर इसका प्रयोग करें।
– बाहर अनावश्यक रूप से किसी भी वस्तु को न छुएं।
– बाजार में हरेक व्यक्ति से पर्याप्त 2 गज की शारीरिक दूरी बनाए रखें।
– एटीएम जाना हो तो दरवाजे के हैंडल, कीबोर्ड को पहले सैनिटाइज करें।
– एटीएम कार्ड और समय-समय पर अपने हाथों को सैनिटाइज करें।
– बाजार से लाए गए फल-सब्जी को अच्छे से साफ कर ही प्रयोग में लाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here