सुरक्षित जीवन के लिए सतर्कता ही है एकमात्र उपाय

0
110
Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

 – बाजार और सड़कों पर न लगाएं भीड़, शारीरिक दूरी का करें पालन- प्रशासन ने जरूरत को देखते हुए नियमों में छूट दी है, नहीं हुआ है संक्रमण अभी खत्म – लोगों को करें जागरूक, एक-दूसरे के सहयोग से ही कोविड-19 पर लगेगा लगाम   

मुंगेर, 28 अगस्त।

सूबे में लॉकडाउन के मध्य अब जीवन सामान्य रूप से पटरी पर लौटने लगा है। प्रशासन की ओर से लोगों की आवश्यकता को देखते हुए नियमों में छूट भी दी जाने लगी है। बाजार और दुकानों के खुलने के साथ अब व्यापार और परिवहन के क्षेत्र में स्थिति सामान्य होने लगी है। हालांकि अभी कोरोना संक्रमण का खतरा टला नहीं है, इसलिए सरकार व स्थानीय प्रशासन द्वारा हरेक पहलू पर नजर रखी जा रही है। साथ ही इस दौरान दिए गए नियमों का सही से पालन करने की अपील भी लोगों से की जा रही है। हालांकि कुछ बाजारों में शारीरिक दूरी का पालन नहीं होता दिख रहा है। जल्दबाजी के चलते लोग अक्सर दुकानों के आगे भीड़ लगा दे रहे हैं। यह वक्त है सजग और सतर्क रहते हुए कोविड-19 के संकमण के प्रसार को रोकने का। लेकिन यह समाज के पूर्ण सहयोग के बिना संभव नहीं है।  अपनी जिम्मेदारी समझें, मास्क व सैनिटाइजर को बनाएं जीवन का अहम हिस्सा: मुंगेर के स्थानीय युवा व्यवसायी प्रशांत कुमार मिश्रा कहते हैं कि सरकार और प्रशासन हरेक जगह आपकी सुरक्षा के लिए खड़ा नहीं रह सकता। इसलिए इस महामारी के दौरान हरेक व्यक्ति को अपनी जिम्मेदारी समझते हुए, स्वयं से पहल करनी होगी। उन लोगों को समझाना होगा जो अक्सर नियमों की अनदेखी करते हैं। हम घर और अपने आसपास से इसकी शुरुआत कर सकते हैं। दुकान और बाजार जाना तो जरूरी है, लेकिन इस दौरान अपने साथ दूसरों की सुरक्षा का भी ख्याल रखना होगा। आज बेहद जरूरी है कि सभी मास्क, शारीरिक दूरी और सैनिटाइजर को अपने जीवन का अहम हिस्सा बना लें। सुरक्षा के नियमों का पालन करेंगे तो रहेंगे सुरक्षित:मुंगेर के स्थानीय बड़ी बाजार निवासी निखिल बताते हैं कि इस वक्त जब सभी लोग अपने सामान्य कार्यों के लिए घर से निकल रहे हैं। बैंक, कार्यालय और व्यापार के कार्यों में लौट रहे हैं, ऐसे में सुरक्षा और सतर्कता बरतने की सबसे ज्यादा जरूरत है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार भी हम कोविड-19 के संक्रमण से तबतक ही सुरक्षित हैं, जबतक की सुरक्षा के नियमों को बेहतर रूप से अपनाते रहेंगे। सड़कों और बाजारों में नियमों की अनदेखी कर लोग स्वयं खतरे को निमंत्रण दे रहे हैं, यह उन्हें समझना होगा। घर से बाहर निकलने पर इन बातों का रखें ख्याल, रहें सुरक्षित: रोजमर्रा के कामों के लिए घर से बाहर निकलना जरूरी है, ऐसे में कुछ सावधानियों को ध्यान में रखते हुए आप स्वयं को संक्रमण के प्रभाव से दूर रख सकते हैं। सबसे पहले घर से बाहर निकले तो शारीरिक दूरी का पालन करें। अपनी आंखों को छूने से बचें, नाक और मुंह पर भी हाथ लगाने से बचें। अक्सर देखा गया है कि घर से बाहर हम अपने हाथ से कई सतहों को छूते हैं और इस दौरान संभव है कि हमारे हाथ में वायरस चिपक जाए। अगर हम उसी अवस्था में अपने नाक, मुंह और आंख को छूते हैं तो वायरस के शरीर में प्रवेश की आशंका बढ़ जाती है। इसलिए सावधानी बेहद जरूरी है। इसके साथ ही मास्क को अच्छे से पहने और सैनेटाइजर अपने साथ रखें। हाथों को भी समय-समय पर साफ करते रहें। नई जीवनशैली में यूं बरतें सावधानी:-घर से बाहर निकलने के दौरान विशेष सतर्कता बरतें, मास्क पहनें और सैनिटाइजर साथ ले लें। -दुकान, कार्यालय और बाजार में स्वच्छता और लोगों की संख्या को देखते हुए ही प्रवेश करें।-कर्मियों, दोस्तों और समाज के लोगों का अभिवादन हाथ जोड़कर नमस्ते करते हुए करें।-सड़क व बाजार में खड़े होकर वार्ता की जगह फोन, वीडियो कॉल या सोशल मीडिया का प्रयोग करें।-अपने स्वास्थ्य का बेहतर रूप से ध्यान रखें, नियमित व्यायाम और खान-पान का ध्यान दें।-कोई भी नई सूचना या जानकारी को साझा करने से पहले उसके सोर्स की जानकारी रख लें।  -अपने व्यवहार को नियंत्रण में रखें, दूसरों को जागरूक करते हुए सकारात्क बातों पर बल दें। -घबराने की जगह शांति से काम लें, वर्तमान पर ध्यान दें, याद रखें कि यह समय चिर-स्थायी नहीं है।-प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के बताए नियमों का पालन करें, आरोग सेतू एप का उपयोग करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here