अब मोबाइल पर मिलेगा कोरोना से वचाव का चिकित्सीय परामर्श

0
723
Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

-जिले में खोले जाएंगे नियंत्रण कक्ष, 24 घंटे तैनात रहेगी चिकित्सकों की टीम 

जमुई,04 अगस्त,2020 

कोरोना वायरस से वचाव को लेकर लोगों को बेहतर सुविधा मुहैया कराने को सरकार पूरी तरह सजग एवं कटिबद्ध है। इसको लेकर रोज नई-नई योजना बना रही है। ताकि लोगों को बेहतर से बेहतर से स्वास्थ सेवा मिल सके एवं लोगों को किसी प्रकार की परेशानियाँ का सामना नही पड़े। इसी क्रम में लोगों को सुविधा के लिए जिले में जिला नियंत्रण कक्ष खोलने का निर्णय लिया। जिससे अब कोरोना से वचाव को लेकर एक घंटी बजाने पर आवश्यक चिकित्सा परामर्श एवं सलाह मिलेगी ।इसके लिए जिले में नियंत्रण कक्ष की स्थापना की जाएगी। जिसमें परामर्श देने वाले चिकित्सकों की टीम 24 घंटे मौजूद रहेगी । यह सुविधा सुनिश्चित कराने को लेकर राज्य स्वास्थ समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने पत्र जारी कर जिले के जिला सिविल सर्जन पदाधिकारी व जिलाधिकारी को निर्देश दिए हैं एवं यथाशीघ्र उक्त सुविधा को चालू कराने को कहा है।

चिकित्सा परामर्श के लिए 10 नंबर होंगे जारी 

जिला सिविल सर्जन पदाधिकारी डॉ. विजेन्द्र सत्यार्थी ने बताया कि चिकित्सा परामर्श के लिए 10 अलग-अलग नंबर जारी होंगे। ताकि मरीजों को किसी प्रकार की परेशानियाँ नहीं हो।एवं चिकित्सा परामर्श के लिए लंबे समय का इंतजार नहीं करना पड़े।

शीघ्र चालू होगा सुविधा 

सिविल सर्जन डॉ. विजेन्द्र सत्यार्थी ने बताया  कि जल्द उक्त सुविधा चालू होगा। इसके लिए कई जरूरी कार्य पूरी कर ली गई है। शेष की जा रही है एवं लोगों को आसानी से बेहतर से बेहतर सुविधा मिले, इसका विशेष ख्याल रखा जाएगा।

वरिष्ठ प्रशासनिक पदाधिकारी होंगे कक्ष प्रभारी 

सिविल सर्जन डॉ. विजेन्द्र सत्यार्थी ने बताया जिला नियंत्रण कक्ष का वरिष्ठ प्रशासनिक पदाधिकारी को प्रभारी बनाया जाएगा। जो केंद्र का मोनिट्रिंग एवं अन्य कार्य का देखरेख करेंगे एवं कक्ष से संबंधित हर गतिविधि पर नजर बनाऐ रखेंगे साथ ही जरूरी सुविधाओं का विशेष ख्याल रखेंगे।

मरीजों की परेशानी को किया गया दूर

कोरोना की जाँच एवं अन्य आवश्यक जानकारी के लिए इससे पूर्व मरीजों का अस्पताल जाना पड़ता था। जहाँ एकसाथ लोगों की भीड़ उमड़ने के कारण अस्पताल में असुविधा हो जाती हैं एवं जानकारी के अभाव कई लोग सुविधा नही ले पाते थे। सिविल सर्जन डॉ. विजेन्द्र सत्यार्थी ने बताया मरीजों के इसी समस्या को देखते हुए  सरकार ने यह सुविधा उपलब्ध कराकर लोगों की परेशानी कोदूर किया। ताकि लोगों को कोरोना से संबंधित जानकारी लेने में लोगों को किसी प्रकार की परेशानियाँ का सामना नही करना पड़े एवं लोगों को आसानी के साथ घर बैठे सुविधा मिल सके।

आवश्यकतानुसार किराऐ पर रखे जाएंगे ऐम्बुलेंस 

आवश्यकतानुसार किराऐ पर अतिरिक्त ऐम्बुलेंस रखें जाएंगे। ताकि जरूरतमंद लोगों को ससमय ऐम्बुलेंस की सुविधा मिल सके एवं लोग समय रहते इलाज के लिए अस्पताल पहुँच सकें। उन्होने बताया गर्भवती एवं गंभीर मरीजों को प्राथमिकता दी जाएगी।

निजी चिकित्सकों की भी होगी तैनाती 

जिला नियंत्रण कक्ष में आवश्यकनुसार निजी चिकित्सकों की भी तैनाती की जाएगी। ताकि मरीजों को समुचित एवं सुदृढ़ चिकित्सा सेवा उपलब्ध कराने में किसी प्रकार की परेशानियाँ नहीं हो। निजी चिकित्सकों को दो हजार रूपया प्रतिदिन मानदेय दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here