रोगियों के लिए वरदान बनेगा जय प्रकाश नारायण अस्पताल का ब्लड स्टोरेज यूनिट

0
296
Share
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

जय प्रकाश नारा​यण परिसर में स्थापित किया गया ब्लड स्टोरेज यूनिट
• सिविल सर्जन ने किया उद्घाटन, रक्त की उपलब्धता होगी आसान
• मौके पर 23 यूनिट रक्त भी किया गया संग्रह 
• स्वास्थ्यकर्मियों व केयर इंडिया के अधिकारियों ने किये रक्तदान
गया, 5 जूलाई: जिलावासियों को अब अधिक आसानी से ईलाज के दौरान रक्त उपलब्ध कराया जा सकेगा. स्वास्थ्य विभाग की इस दिशा में लगातार प्रयास के सकारात्मक परिणाम दिखने को मिला है. रक्त की ससमय उपलब्धता सुनिश्चित कराने के उद्देश्य से शहर के जय प्रकाश नारायण अस्पताल में रक्त संग्रह ईकाई की स्थापना की गयी है. रविवार को इस रक्त संग्रह ईकाई का विधिवत उद्धटान सिविल सर्जन डॉ ब्रजेश कुमार सिंह ने किया. उन्होंने बताया रोगियों सहित गर्भवती महिलाओं के प्रसव के दौरान किसी भी आपात स्थिति में उन्हें रक्त उपलब्ध कराया जा सकेगा. रक्त की जरूरत को किसी भी समय मुहैया कराने के प्रयास हर स्तर पर जारी रहेंगे. रक्त संग्रह ईकाई की स्थापना इस अस्पताल के लिए महत्वपूर्ण उपलब्धि है. उन्होंने इसके लिए सभी स्वास्थ्यकर्मियों के एकजुट काम करने को लेकर उनका उत्साहवर्धन भी किया. 
23 यूनिट रक्त किये गये संग्रह: 
इस मौके पर कई स्वास्थ्यकर्मियों सहित स्वास्थ्य विभाग को तकनीकी सहयोग देने वाली संस्था केयर इंडिया के अधिकारियों ने भी स्वैच्छिक रक्तदान किया. इस दौरान कुल 23 युनिट रक्त संग्रह किया गया. जिला स्वास्थ्य समिति के सहयोग से स्थापित इस ईकाई की मदद से किसी भी आपात स्थिति में रक्त की जरूरत को पूरा करने के लिए ये यूनिट काफी मददगार साबित होगा. इस यूनिट में रक्त संग्रह के लिए आवश्यक सभी आधुनिक उपकरण मौजूद हैं. स्वैच्छिक रक्तदान करने वाले लोग भी यहां आकर रक्तदान कर सकते हैं. मगध मेडिकल अस्पताल को इस ब्लड स्टोरेज यूनिट का मदर ब्लड बैंक बनाया गया है.
इस मौके पर सिविल सर्जन डॉ ब्रजेश कुमार सिंह, जिला स्वास्थ्य समिति के जिला कार्यक्रम प्रबंधक नीलेश कुमार, एनसीडीओ डॉ फिरोज अहमद, मगध मेडिकल कॉलेज के ब्लड बैंक के चिकित्सा पदाधिकारी डॉ संजय गुप्ता, अस्पताल प्रबंधक संजय कुमार अम्बष्ट, परैया प्रखंड के सामुदायिक उत्प्ररेक राकेश कुमार सहित केयर इंडिया की टीम व अन्य स्वास्थ्यकर्मी आदि मौजूद थे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here